अनुमति जरूरी है

मेरी अनुमति के बिना मेरे ब्लोग से कोई भी पोस्ट कहीं ना लगाई जाये और ना ही मेरे नाम और चित्र का प्रयोग किया जाये

my free copyright

MyFreeCopyright.com Registered & Protected

मंगलवार, 25 अक्तूबर 2011

तुम होते तो………

तुम होते.....तो जरुर दीपावली होती....
नहीं हो ..... दिवाली फिर भी है
ना तेरे रहने से ना तेरे जाने से

दिवाली पर कोई फर्क पड़ा 

तुम होते ........तो जरूर दीप जलते
नहीं हो ...........फिर भी दीप तो जले हैं 
मगर अश्रु घृत में इंतजार की बाती को
आहों की अग्नि से प्रज्वलित किया है 

तुम होते .........तो जरूर पूजन होता
नहीं हो ..........पूजन तो हुआ है
मगर तुम्हारी यादों को ह्रदय की तश्तरी में 
सजाकर कसक के अक्षत कुमकुम से नवाज़ा है 

तुम होते .........तो जरूर अमावस भी रौशन होती 
नहीं हो ............तब भी रौशन तो हुई है 
मगर तेरी मोहब्बत के निशानों ने 
हृदयतम पर छाये घनेरे अँधेरे पर 
याद का दिया जलाया है 

तुम नहीं हो ........फिर भी दिवाली तो है ना
क्या हुआ ........जो गुलाब खिल ना सके 
क्या हुआ .........जो मोहब्बत के दीप जल ना सके
दिवाली के लिए कब वजूदों की जरूरत हुई है 
तेरे होने के अहसास ने ही मेरी अमावस रौशन कर दी है ............




दोस्तों पहली लाइन ( तुम होते तो.......जरूर दिवाली होती ) 


मायामृगजी की फेसबुक पर पढ़ी तो इस रचना का जन्म हो गया. 

46 टिप्‍पणियां:

Prakash Jain ने कहा…

bhavpurn....bahut bahut pasand aayi...

www.poeticprakash.com

इमरान अंसारी ने कहा…

veri nice vandana ji. Wish to you very Happy Diwali to you & your family.

vikas mehta ने कहा…

vandna ji namskar acchi rachna ke lie dhanywad .........

http://mehtablogspotcom.blogspot.com/2011/10/blog-post.html

निर्मला कपिला ने कहा…

भावमय कविता।आपको सपरिवार दीपावली की हार्दिक मंगल कामनायें।

डा.राजेंद्र तेला"निरंतर" Dr.Rajendra Tela,Nirantar" ने कहा…

तुम होते तो
बात कुछ और होती ...........

अरुण चन्द्र रॉय ने कहा…

ज्योतिपर्व दिवाली की हार्दिक शुभकामना !

Vaneet Nagpal ने कहा…

नमस्कार,
आप के लिए "दिवाली मुबारक" का एक सन्देश अलग तरीके से "टिप्स हिंदी में" ब्लॉग पर तिथि 26 अक्टूबर 2011 को सुबह के ठीक 8.00 बजे प्रकट होगा | इस पेज का टाइटल "आप सब को "टिप्स हिंदी में ब्लॉग की तरफ दीवाली के पावन अवसर पर शुभकामनाएं" होगा पर अपना सन्देश पाने के लिए आप के लिए एक बटन दिखाई देगा | आप उस बटन पर कलिक करेंगे तो आपके लिए सन्देश उभरेगा | आपसे गुजारिश है कि आप इस बधाई सन्देश को प्राप्त करने के लिए मेरे ब्लॉग पर जरूर दर्शन दें |
धन्यवाद |
विनीत नागपाल

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

बहुत सुन्दर ...दुनिया के सारे काम होते ही हैं कोई रहे या न रहे .. बस मन उल्लसित नहीं होता ..

दीपावली की शुभकामनाएँ

Patali-The-Village ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति |

दिवाली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएँ|

Amrita Tanmay ने कहा…

अति सुन्दर....** दीप ऐसे जले कि तम से संग मन को भी प्रकाशित करे ***शुभ दीपावली **

Kailash C Sharma ने कहा…

बहुत भावपूर्ण प्रस्तुति....दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें!

डॉ टी एस दराल ने कहा…

बहुत नेक विचार .
दीवाली की शुभकामनायें स्वीकारें .

सागर ने कहा…

bhaut hi sundar bhaav....

Human ने कहा…

बहुत अच्छे भावानुभाव लिये उत्कृष्ट रचना,आपको और आपके परिवार को दीपावली की ढेर सारी शुभकामनायेँ।

दिलबाग विर्क ने कहा…

सही फरमाया
कब रुकती है जिंदगी जाने वालों के साथ

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

याद किसी की दिया जलाये।

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') ने कहा…

सुन्दर रचना....
आपको दीप पर्व की सपरिवार सादर बधाईयाँ....

सदा ने कहा…

बहुत ही भावमय करते शब्‍दों को आपने प्रस्‍तुत किया है इस अभिव्‍यक्ति में ...

दीपोत्‍सव की शुभकामनाओं के साथ बधाई ।

uthojago ने कहा…

शुभ दिवाली !

uthojago ने कहा…

शुभ दिवाली !

संजय भास्कर ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति
आपको और आपके प्रियजनों को दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें….!

संजय भास्कर
आदत....मुस्कुराने की
http://sanjaybhaskar.blogspot.com

आशा जोगळेकर ने कहा…

बहुत भावप्रवण रचना ।
आपको दीपावली की शुभ कामनाएं वे भी हों और प्यार के दीप भी जलें । खुशी के रंग बिखरें ।

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

सुंदर भाव लिए पंक्तियाँ... दीपोत्सव की शुभकामनायें

प्रेम सरोवर ने कहा…

आपके पोस्ट पर आना बहुत अच्छा लगा । मेरे पोस्ट पर आपका स्वागत है । दीपावली की शुभकामनाएं ।

Ratan Singh Shekhawat ने कहा…

दीपावली के पावन पर्व पर हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएँ |

way4host
rajputs-parinay

Dr.Bhawna ने कहा…

bahut khub ! dipavali ki hardik shubkamnayen...

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

चर्चा मंच परिवार की ओर से दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ!
आइए आप भी हमारे साथ आज के चर्चा मंच पर दीपावली मनाइए!

udaya veer singh ने कहा…

ज्योति पर्व की बहुत -२ बधाईयाँ , सुन्दरसृजन को , सम्मान ....मंगलमय हो दीपावली ../

Kunwar Kusumesh ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति .

दिवाली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएँ.

Rakesh Kumar ने कहा…

आपकी अभिव्यक्ति सुन्दर ओर भावपूर्ण है.
सुन्दर प्रस्तुति के लिए आभार.

वंदना जी,आपके व आपके समस्त परिवार के स्वास्थ्य, सुख समृद्धि की मंगलकामना करता हूँ.दीपावली के पावन पर्व की बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ.
दुआ करता हूँ कि आपके सुन्दर सद लेखन से ब्लॉग जगत हमेशा हमेशा आलोकित रहे.

मनोज कुमार ने कहा…

प्यार हर दिल में पला करता है,
स्नेह गीतों में ढ़ला करता है,
रोशनी दुनिया को देने के लिए,
दीप हर रंग में जला करता है।
प्रकाशोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई!!

mridula pradhan ने कहा…

wah....behad marmik....bhawbhini kavita likhi hain aap.

अनुपमा पाठक ने कहा…

भावपूर्ण!
शुभ दीपावली!

Swarajya karun ने कहा…

दिल को छू लेने वाली इस रचना की हर पंक्ति लाजवाब है. ज्योति पर्व की आपको सपरिवार हार्दिक शुभकामनाएं .

Sawai Singh Rajpurohit ने कहा…

*दीवाली *गोवर्धनपूजा *भाईदूज *बधाइयां ! मंगलकामनाएं !

ईश्वर ; आपको तथा आपके परिवारजनों को ,तथा मित्रों को ढेर सारी खुशियाँ दे.

माता लक्ष्मी , आपको धन-धान्य से खुश रखे .

यही मंगलकामना मैं और मेरा परिवार आपके लिए करता है

डॉ. जेन्नी शबनम ने कहा…

sach hai kisi ke na hone se kuchh nahin rukta lekin hone se baat hin kuchh aur hoti. bahut bhaavpurn rachna. badhai Vandana ji.

PRIYANKA RATHORE ने कहा…

dil ko chhu lene vale ahsas.....aabhar

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार ने कहा…

**************************************
*****************************
* आप सबको दीवाली की रामराम !*
*~* भाईदूज की बधाई और मंगलकामनाएं !*~*

- राजेन्द्र स्वर्णकार
*****************************
**************************************

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार ने कहा…

*******************************************************************
# आप में से कोई मेरी मदद कर सकें तो बहुत आभारी रहूंगा
मेरे दोनों ब्लॉग कल दोपहर बाद से गायब हैं

शस्वरं


ओळ्यूं मरुधर देश री


लिंक :-
shabdswarrang.blogspot.com
rajasthaniraj.blogspot.com


- राजेन्द्र स्वर्णकार
*****************************************************************

मेरे भाव ने कहा…

रोचक कविता... आप प्रेम को अलग दृष्टि देती हैं.. दिवाली की हार्दिक शुभकामना !

मेरे भाव ने कहा…

रोचक कविता... आप प्रेम को अलग दृष्टि देती हैं.. दिवाली की हार्दिक शुभकामना !

वाणी गीत ने कहा…

होता तो सबकुछ ही है , फिर भी नहीं कुछ होता है ...
यकीनन तेरा होना ही सब होना है !
सुन्दर !

LOVE TO ALL ने कहा…

नमस्कार वंदनाजी,

आपकी रचनाओं में सार बहुत है अभी आज ही आपके ब्लॉग को देखकर लगा अब इसे रोज खोलना होगा जिससे कुछ ज्ञान जीवन के कई रंगों से परिचय होने लगेगा बहुत बहुत आभार और साधुवाद मैं संजय कल्ला जयपुर से नमन फिर मिलेंगे

LOVE TO ALL ने कहा…

वंदनाजी नमस्कार आज पहली बार आपका ब्लॉग देखा काफी सारगर्भित रचनाये है मुझे लगता है इसे रोज रूबरू होना पड़ेगा और नयी नयी रचनाओं से कुछ ज्ञान और जीवन के नए रंगों से परिचय करना होगा नमन आपको मैं संजय कल्ला जयपुर से साधुवाद आपकी रचनायो के लिए

चन्दन..... ने कहा…

बहुत ही सुन्दर और भावपूर्ण रचना|

ZEAL ने कहा…

bahut sundar rachna.