अनुमति जरूरी है

मेरी अनुमति के बिना मेरे ब्लोग से कोई भी पोस्ट कहीं ना लगाई जाये और ना ही मेरे नाम और चित्र का प्रयोग किया जाये

my free copyright

MyFreeCopyright.com Registered & Protected

मंगलवार, 4 फ़रवरी 2014

मेरे मन का राग हो तुम



हे तमहारिणी ! 
प्रकाश का भंडार हो तुम
सदबुद्धि का आधार हो तुम 
लेखनी का प्रमाण हो तुम 
वाणी में सुरों का सार हो तुम 
मानव के रोम- रोम में बसा 
प्रेम का संचार हो तुम 


हे वरदायिनी !
वरदहस्त बनाये रखना 
अपनी कृपा बरसाये रखना 
जीवन में ज्ञान का उजास जगाये रखना 
पथरीले पथ भी सुगम बनाये रखना 
बस अपने शिशुओं पर इतना स्नेह बनाये रखना 

हे वीणावादिनी !
नवयुग का आगाज़ हो तुम 
ज्ञानोदय का भंडार हो तुम 
जीवन का आधार हो तुम 
प्रकृति के कण- कण में बजता 
सदियों से बहता अजस्र नाद हो तुम 


हे वागीश्वरी !
मेरी वाणी को आधार देता 
कृपामय प्रसाद हो तुम 
हे कादम्बरी !
मेरे जीवन की नयी सुबह का 
एक गुनगुनाता भाव हो तुम 
हे वरप्रदायिनी !
कोटि कोटि नमन करता 
मेरे मन का राग हो तुम 

16 टिप्‍पणियां:

संजय भास्‍कर ने कहा…

हे वीणावादिनी ! नवयुग का आगाज़ हो तुम ज्ञानोदय का भंडार हो तुम
बहुत सुंदर ही सुंदर रचना लिखी है वंदना दी
आप को और पूरे परिवार को बसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनाएं...!!

@ संजय भास्कर

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

माँ शारदा की कृपा बनी रहे .... बहुत सुन्दर प्रार्थना

कालीपद प्रसाद ने कहा…

bahut sundar vaagdevi stuti
New Post: Arrival of Spring !
वसन्त का आगमन !

Digvijay Agrawal ने कहा…

आपकी कृति बुधवार 5 फरवरी 2014 को लिंक की जाएगी...............
http://nayi-purani-halchal.blogspot.in
आप भी आइएगा ....धन्यवाद!

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
--
आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज बुधवार (05-02-2014) को "रेखाचित्र और स्मृतियाँ" (चर्चा मंच-1514) पर भी होगी!
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

डॉ. जेन्नी शबनम ने कहा…

वसंत पंचमी पर सुन्दर रचना, बधाई.

प्रतिभा सक्सेना ने कहा…

मन का यह सुन्दर राग यों ही झंकृत रहे !

Ranjana Verma ने कहा…

बहुत सुंदर.... बसंत पंचमी की बहुत बहुत बधाई और शुभकामना !!

Ranjana Verma ने कहा…

बहुत सुंदर.... बसंत पंचमी की बहुत बहुत बधाई और शुभकामना !!

प्रतिभा सक्सेना ने कहा…

यह सुंदर वंदना और कामना आपके साथ-साथ हम सबके लिए फलीभूत हो -यही प्रार्थना है माँ शारदा से !

वाणी गीत ने कहा…

माँ वीणापाणि वरदहस्त बनाये रखे !
बहुत शुभकामनायें !

Kaushal Lal ने कहा…

बहुत सुंदर रचना ......

Reena Maurya ने कहा…

बहुत ही सुन्दर प्रार्थना
माँ सरस्वती कि कृपा रहे आप पर...
बसंत पंचमी कि हार्दिक शुभकामनाएँ....
http://mauryareena.blogspot.in/
:-)

रश्मि शर्मा ने कहा…

बहुत सुंदर रचना...

Rakesh Kaushik ने कहा…

हे वरदायिनी कोटि कोटि नमन

Dr Lal Thadani ने कहा…

संग्रह हित योग्य .. अत्ति उत्तम
www.drlalthadani.com