अनुमति जरूरी है

मेरी अनुमति के बिना मेरे ब्लोग से कोई भी पोस्ट कहीं ना लगाई जाये और ना ही मेरे नाम और चित्र का प्रयोग किया जाये

my free copyright

MyFreeCopyright.com Registered & Protected

सोमवार, 5 मार्च 2012

होली का हुडदंग

दोस्तों
इस बार होली का हुडदंग शुरू करती हूँ हाइकू के संग .........पहली बार कोशिश है आप सबके समक्ष रखने की .......... उम्मीद है खरी उतरूंगी और यदि कोई त्रुटि हो तो मार्गदर्शन कीजियेगा 









मुख गुलाल 
नखरे वाली नार 
नैन कटार




रंग में भंग 
लाज भरा घूंघट
बेस्वाद फाग 





भौजाई संग 
खेले देवर होली 
फागुनी रंग 


गोपी दीवानी 
प्रेम फुहार मारे 
वो बनवारी 




निगोड़ी फाग 
बालम परदेसी 
हो  कैसे होली 




टेसू अबीर 
रंग गुलाल खेलें
कटीली  नार 





सजीले पिया 
तेरे बिन दिल का 
जहान फीका 





लाज शरम 
गयी मारी उनकी 
छेड़ें मोहन 




नैन कटार 
मारते बनवारी 
लजाये राधा 




सूनी रे होरी
ना चटकीले रंग 
मैं इस पार 



टेसू का रंग 
मन का मकरंद
भंग में मस्त 





फागुनी रंग
होली का हुडदंग 
कान्हा के संग 




मैं ब्रजनार
तुम  माखनचोर 
लगाओ जोर 




प्रीत की डोरी
तुम संग है जोड़ी 
मतवाले जू 




जो तुम संग 
खेलूँ फाग मोहन 
हो अनुराग 




हो अनुराग 
प्रीत चढ़े अटारी
मिलें मुरारी 




मिलें मुरारी
हो जाऊँ बावरिया
मैं सांवरिया 




मैं सांवरिया 
की बनूँ दुल्हनिया
ओढ़ चुनरी 




लाल की लाली 
चढ़ी रंग ऐसे ही
जैसे सिन्दूर 




अब मैं लाल 
मेरा मोहन लाल 
लाल में लाल 




भक्ति की शक्ति 
बिन पिए है चढ़ी 
रूह की मस्ती 



47 टिप्‍पणियां:

kshama ने कहा…

Bahuthee sundar!

सदा ने कहा…

रूह की मस्‍ती ...

वाह .. बहुत खूब ।

डॉ टी एस दराल ने कहा…

बढ़िया त्रुटिहीन हाइकु .
होली की शुभकामनायें .

दिगम्बर नासवा ने कहा…

सभी हाइकू लाजवाब ... कान्हा तो सभी जगह हैं ...
आपको होली की बहुत बहुत शुभकामनायें ...

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

सुंदर हाइकु रचनाएँ .....

जहां तक त्रुटि का सवाल है तो मैं भी अभी सीख ही रही हूँ .... वैसे जहां श्याम शब्द आया है वहाँ गिनती में 2 ही वर्ण गिने जाएंगे ... अत: हाइकु का नियम टूट रहा है ... और एक में जहां इंद्र्धनुषी शब्द आया है वहाँ 5 वर्ण से ज्यादा हैं ... हो सके तो देखिएगा ॥

पूरी तरह रंग से सराबोर कर दिया है आपकी हाइकु रचनाओं ने ...

वन्दना ने कहा…

इंद्रधनुषी वाला मै बदल चुकी हूँ वो सही कर रही थी कि आपका जवाब आ गया और श्याम वाला ध्यान नही रहा नही तो वो भी बदल देती और अभी बदल दूंगी ………हार्दिक आभार आपका इस ओर ध्यान दिलाने का:)

RITU ने कहा…

बहुत सुन्दर..
होली की अनेकानेक बधाई..
kalamdaan.blogspot.in

mridula pradhan ने कहा…

ek-se-badhkar ek......

वृजेश सिंह ने कहा…

सुंदर पंक्तियां। मुझे तो हाइकू के बारे में कोई जानकारी नहीं है। इसलिए उस बारे में कुछ कहने से बेहतर चुप रहना समझता हूं।

anju(anu) choudhary ने कहा…

अभी हाइकु सीखना हैं ....पर पढ़ने में मनमोहक हैं ...होली के रंग ..राधा कृष्ण के संग



होली की बहुत बहुत शुभकामनएं

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

:):) सुंदर बदलाव ....

रश्मि प्रभा... ने कहा…

रंग छलके सुना दे ज़रा बांसुरी

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

रंगों के उड़ते छींटों से हाइकू..

शिखा कौशिक ने कहा…

BAHUT SUNDAR ....HOLI PARV KI HARDIK SHUBHKAMNAYEN . YE HAI MISSION LONDON OLYMPIC

Ankur jain ने कहा…

wah bahut sundar abhivyakti...holi ki shubhkamayen

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

वाह!
बहुत सुन्दर हाइकू लिखे हैं आपने तो!
होली की शुभकामनाएँ!

जयकृष्ण राय तुषार ने कहा…

होली पर सुन्दर हाईकू |बधाई और शुभकामनाएँ |

महेन्द्र मिश्र ने कहा…

बढ़िया प्रस्तुति
होली पर्व पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं...

कुमार राधारमण ने कहा…

मचे धमाल
खेलें होली के रंग
न छूटे कोई

रविकर ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति



होली है होलो हुलस, हुल्लड़ हुन हुल्लास।
कामयाब काया किलक, होय पूर्ण सब आस ।।

Shanti Garg ने कहा…

बहुत बेहतरीन....
मेरे ब्लॉग पर आपका हार्दिक स्वागत है।

shikha varshney ने कहा…

क्याबात है.फागुनी हाइकू ..ये भी जबर्दस्त्त हैं.

अभिषेक प्रसाद ने कहा…

vandana ji aur kitne roop dekhne ko milenge aapke... maza aa gaya...

रेखा श्रीवास्तव ने कहा…

होली की रंग बिरंगी मस्ती और त्योहारी रंग से सजे हाइकू ने मन को मोह लिया.
होली की हार्दिक शुभकामनाएं. !
--

dheerendra ने कहा…

बेहतरीन
हाइकू के रंग में
मनमोहक......

बंदना जी,...आपका प्रयास बहुत सराहनीय लगा,...बहुत२ बधाई....

NEW POST...फिर से आई होली...
NEW POST फुहार...डिस्को रंग...

***Punam*** ने कहा…

ati sundar.....

सतीश सक्सेना ने कहा…

यह तो आपका नया रंग देखा ....
शुभकामनायें आपको !

शिवम् मिश्रा ने कहा…

इस पोस्ट के लिए आपका बहुत बहुत आभार - आपकी पोस्ट को शामिल किया गया है 'ब्लॉग बुलेटिन' पर - पधारें - और डालें एक नज़र - मिठाई के नाम पर जहर का कारोबार - ब्लॉग बुलेटिन

संध्या शर्मा ने कहा…

बहुत सुन्दर हाइकू... होली की हार्दिक शुभकामनाएं...

Atul Shrivastava ने कहा…

आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा आज के चर्चा मंच पर की गई है। चर्चा में शामिल होकर इसमें शामिल पोस्ट< पर नजर डालें और इस मंच को समृद्ध बनाएं.... आपकी एक टिप्पणी मंच में शामिल पोस्ट्स को आकर्षण प्रदान करेगी......

PRAN SHARMA ने कहा…

HOLI KE RANGEEN AWSAR PAR AAPNE MANORAM RANG BIKHERE HAIN .
HOLI AAP SAB KO MUBAARAQ .

अजय कुमार झा ने कहा…

उफ़्फ़ ,
ये फ़ागुन कातिल ,
कि आपकी अदा

Mukesh Kumar Sinha ने कहा…

wah re HOLI ke haiku...
ek se badh kar ek...
holi ki shubhkamnayen..:)

India Darpan ने कहा…

बहुत बेहतरीन और सार्थक रचना,
इंडिया दर्पण की ओर से होली की अग्रिम शुभकामनाएँ।

M VERMA ने कहा…

अनोखा यह रंग
कर गया दंग

बहुत खूब

Reena Maurya ने कहा…

-----बहूत हि बढीया हाईकु ------
-----होली पर्व कि शुभकामनाये-----

सदा ने कहा…

कल 07/03/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .

धन्यवाद!


'' होली की शुभकामनायें ''

मनीष सिंह निराला ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति !
होली की ढेर सारी शुभकामनायें !

कविता रावत ने कहा…

होली के रंग में रंगी बहुत बढ़िया हायकू
होली की आपको सपरिवार हार्दिक शुभकामनायें!

अनामिका की सदायें ...... ने कहा…

yahan bhi kalam ne apni dhaar dikha hi di. badhiya.

holi mubarak.

vandana ने कहा…

मोहन के रंग रंगी सुन्दर रचनाएँ
होली की ढेर सी शुभकामनाएं

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) ने कहा…

आपको होली की सपरिवार हार्दिक शुभकामनाएँ।

सादर

अमित श्रीवास्तव ने कहा…

भीगी भीगी होली में रंगों से तरबतर शुभकामनाएं...

mark rai ने कहा…

होली पर बहुत बहुत शुभकामनाएं

sushila ने कहा…

एक से एक बढकर हाइकु ! बधाई!

होली मुबारक

ऋता शेखर मधु ने कहा…

वाह! सभी हाइकु एक से बढ़कर एक...
होली की हार्दिक शुभकामनाएँ!

Rakesh Kumar ने कहा…

अब मैं लाल
मेरा मोहन लाल
लाल में लाल

वाह! वाह! वाह जी.
लाल रंग में रंगा मोहन और आप
क्या कमाल है जी.

लाली मेरे लाल की जित देखूं तित लाल